Menu

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने हाल ही में अपनी स्विफ्ट का नया अपडेटेड वर्जन लॉन्च करने का फैसला किया है और खबरों की माने तो आने वाले ऑटो एक्सपो में  वह इसे प्रदर्शित भी कर सकती है। आपको बता दें कि जब से मारुति ने अपनी डिजायर का नया वर्जन लॉन्च किया था, तभी से  कार लवर्स स्विफ्ट के थर्ड जनरेशन का भी इंतज़ार करने लगे थे। Also Read: MARUTI SUZUKI INDIA इन कारों के साथ दस्तक देंगी 2018 AUTO EXPO में

जिसके चलते मारुति ने अपने ग्राहकों को ज्यादा इंतजार करवाते हुए स्विफ्ट के थर्ड जनरेशन को लॉन्च करने का फैसला किया है, जो डिजाइन और इंजन परफॉर्मेंस के मामले में पुरानी स्विफ्ट से ज्यादा बेहतर नजर रही है। अपने इसी दमदार लुक और परफॉर्मेंस के कारण यह कार ,कार मार्केट में फोर्ड फिगो, टाटा टियागो और हुंडई ग्रैंड आई 10 को कड़ी चुनौती देती नजर रही है। मारुति की इस हैचबैक कार का इस कदर मार्केट में क्रेज है कि यहां यह अभी से ही बहुत से डीलर ने इस नई कार की एडवांस बुकिंग भी शुरू कर दी है। आइये जानते है कि इन नई स्विफ्ट में वह कौन कौन से फ़ीचर्स है, जो इसे पुरानी स्विफ्ट से बेहतर और अलग बनाती है।

डिजाइन

इस नई स्विफ्ट के फ्रंट रेडिएटर ग्रिल डिजाइन को ज्यादा शार्प और चौड़ा बनाया गया है, जिसकी वजह से यह बहुत ही ज्यादा आकर्षक नजर रहा है। इसके साथ ही इस कार के हेडलाइट्स भी नए डिजाइन के बनाये गए है, जो डीआरएल और प्रोजेक्टर हेडलैम्प्स के साथ दिए गए है। यह देखने में बिल्कुल मारुति की सबक़ॉम्पेक्ट कार बलेनो जैसा लगता है। इसके बम्पर को भी नए डिजाइन के साथ बनाया गया है, जिसमें अब फोग लैम्प्स भी दिए गए है। Also Read : MARUTI CELERIO ने एक साल में अपनी एक लाख से ज्यादा यूनिट की बिक्री कर बनाया नया रिकॉर्ड

इस नई कार का सिल्हूट बिल्कुल पुराने वर्जन की तरह ही है, लेकिन इसके स्लोपिंग रूफ डिजाइन थोड़े नए है, जो इसे एक कूप कार की शेप देते है। कार के सी -पिलर को ब्लैक कवर से डिजाइन किया गया है, जो हुंडई एलाइट आई 20 जैसा लगता है। कार के रियर डोर हैंडल को अब रियर मिरर पर दिया गया है, जिसके कारण इसे खोलना पहले से ज्यादा आसान हो जाता है।

डायमेंशन

अगर इस कार के डायमेंशन की बात करे तो यह देखने में अपने पुराने वर्जन से थोड़ी लंबी लगती है लेकिन अभी तक कंपनी द्वारा इसका कोई खुलासा नहीं किया गया है। साथ ही कार की शोल्डर लाइन का डिजाइन भी बलेनो से ही लिया गया है। यह नई स्विफ्ट अपने पुराने वर्जन से करीब 10 मिमी छोटी है लेकिन इसका व्हील बेस 20 मिमी तक बढ़ाया गया है। अगर पुरानी स्विफ्ट की बात की जाए तो उसमें रियर सीट्स के  नी -रूम को लेकर काफी परेशानी देखी गयी, लेकिन अब कंपनी ने इसके व्हील बेस को थोड़ा बढ़ा कर इस समस्या को खत्म कर दिया है, जो इस कार की सबसे खास बात है। साथ ही इस नई स्विफ्ट को 40 मिमी चौड़ा भी बनाया गया है, जिसके कारण कार का शोल्डर रूम भी पहले से बेहतर नजर रहा है। हालांकि कार की ऊंचाई थोड़ी कम करने की वजह से इसकी सीट्स को थोड़ा नीचे किया गया है, जिसकी वजह से इसके हेडरूम में कोई भी समस्या नहीं आने वाली। Also Read :  MARUTI SUZUKI SWIFT की बुकिंग जनवरी से शुरू होगी, AUTO EXPO 2018 में भी लॉन्च की जाएगी

एक्सटीरियर

कार के रियर साइड की बात करें तो इसके टेललाइट को नया स्क्वेरिश डिजाइन दिया गया है, जिसकी वजह से यह पहले से बहुत ज्यादा आकर्षक नजर रही है। इस नई कार की फोटोज देखने से पता चलता है कि इसमें दो एक्जॉस्ट पाइप भी दिए गए है, जबकि इसके टेस्ट किये गए वर्जन में केवल एक ही पाइप था। उम्मीद की जा रही है कि कार का स्पोर्टी वर्जन इन दो एक्जॉस्ट पाइप के साथ दिया जाएगा। अगर इसके ओवरआल डिजाइन की बात करें तो यह पहले वर्जन के मुकाबले बहुत ही ज्यादा आधुनिक और नई दिखाई देती है, जिसके कारण यह अपने ग्राहकों को काफी आसानी से इम्प्रेस कर सकती है।

प्लेटफार्म

अगर इस नई कार के प्लेटफार्म की बात की जाए तो इसे हियरटेक प्लेटफॉर्म पर तैयार किया गया है, जिसकी वजह से इसका वजन अपनी पुरानी स्विफ्ट से करीब 120 किलो तक कम हो गया है, और अब इसके नए वेरिएंट का वजन करीब 840 किलो होगा। अगर देखा जाए तो यह कार बलेनो की सबसे हल्के वेरिएंट से भी करीब 25 किलो हल्की है। इसके वजन में कमी आने की वजह से इस कार का परफॉर्मेंस और फ्यूल एफ्फिशिएंसी पुराने वर्जन के मुकाबले ज्यादा बेहतर बन जाती है। Also Read: MARUTI SUZUKI INDIA इन कारों के साथ दस्तक देंगी 2018 AUTO EXPO में

फ़ीचर्स

इस नई स्विफ्ट के डैशबोर्ड को पहले से ज्यादा क्लीन और बेहतर डिजाइन किया गया है, जिसमें फ्लैट बॉटम और मल्टी फंक्शन वाला स्टीयरिंग व्हील दिया गया है। कार के इंस्ट्रूमेंट ट्विन पोड डिजाइन दिया गया है, जिसमें एनालॉग डिस्प्ले और टेकोमीटर मौजूद है। कार के टच स्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम और क्लाइमेट कन्ट्रोल के डिजाइन को बलेनो से लिया गया है। इसमें 7 इंच की इंफोटेनमेंट स्क्रीन भी है, जो एंड्रॉयड ऑटो और एप्पल कारप्ले को सपोर्ट भी करती है। इसके साथ ही इस नई कार में मेमोरी नेविगेशन, ऑटोमैटिक क्लाइमेट कन्ट्रोल सिस्टम, टीवी ग्लास ऐन्टेना, रियर पार्किंग कैमरा, 4.2 इंच एलसीडी मल्टी इन्फॉर्मेशन डिस्प्ले, इंजन स्टार्ट/स्टॉप बटन जैसी बहुत से नए फीचर्स मौजूद है और उम्मीद की जा रही है कि इसमें कुछ इंटरनेशनल फ़ीचर्स भी दिए जाएंगे ,जिसकी वजह से यह बहुत खास बन जाती है।

वहीं दूसरी तरफ अगर पुरानी स्विफ्ट की बात की जाए तो उसमें कुछ फ़ीचर्स मिसिंग ,थे जिनमें मेमोरी नेविगेशन, टीवी ग्लास ऐन्टेना, 4.2 इंच मल्टी इन्फॉर्मेशन डिस्प्ले जैसे फीचर्स का नाम लिया जा सकता है। Also Read: 2020 तक भारत को इलेक्ट्रिक कारों की सौगात देने के लिए TOYOTA और SUZUKI ने मिलाया हाथ

इंजन ऑप्शन

मारुति ने इस नई स्विफ्ट के इंजन में 2 पेट्रोल इंजन दिए गए है, जिनमे से एक 1.0 लीटर बूस्टरजेट पेट्रोल इंजन होगा, जो स्विफ्ट के आरएस वैरिएंट में उपलब्ध होगा। यह इंजन 110 पीएस और 170 एनएम टॉर्क की पावर जनरेट कर सकता है और इस इंजन को 6 स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के साथ उपलब्ध कराया गया है, जो इस स्विफ्ट को ओर भी ज्यादा खास बनाता है।

वहीं इस कार में दूसरा पेट्रोल इंजन 1.2 लीटर के सीरीज का दिया गया है, जो 6000 आरपीएम पर 84 पीएस और 4000 आरपीएम पर 115 एनएम टॉर्क पावर जनरेट करने की क्षमता रखता है। इसके साथ ही इसे 1.3 लीटर डीडीआईएस डीजल इंजन का भी ऑप्शन दिया गया है, जो 4000 आरपीएम पर 75 पीएस और 2000 आरपीएम पर 190 एनएम टॉर्क पावर जनरेट कर सकता है। इन दोनों इंजन के साथ 5 स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशन दिया गया है। Also Read: अक्टूबर महीने की सेल्स में नहीं दिखा देश की न01 MARUTI SUZUKI INDIA का दम

अगर स्विफ्ट के पुराने वर्जन की बात करें तो उसमें केवल 1.2 लीटर डुअलजेट पेट्रोल इंजन और 1.3 लीटर डीजल इंजन के साथ उपलब्ध है, जिसकी वजह से यह नई स्विफ्ट के आगे थोड़ी कमजोर नजर आती है।

 निष्कर्षः मारुति सुजुकी स्विफ्ट का यह थर्ड जेनरेशन इसके पुराने वर्जन के मुकाबले बहुत बड़ा अपग्रेड है और स्टाइल और परफॉर्मेंस के मामले में भी यह कार अपने पुराने वर्जन से कहीं ज्यादा बेहतर नजर आती है। हालांकि कंपनी ने अभी तक इसे भारत में लॉन्च नहीं किया है और ही इसकी कीमत का खुलासा किया है, लेकिन उम्मीद की जा रही है कि इस नई कार की कीमत पुराने वर्जन के मुकाबले 50 हजार रुपये अधिक हो सकती है, लेकिन यह नई स्विफ्ट आपको बिल्कुल भी निराश नहीं करेगी और इसे वैल्यू फ़ॉर मनी कार कहा जा सकता है, जो आसानी से अपने पुराने वर्जन को कवर अप कर लेगी। Also Read: भारतीय मार्केट में लांच के 1 साल के अंदर मारूति की विटारा ब्रेज़ा ने छुआ 2लाख ब्रिकी का आकड़ा

Comments
Leave a Comment